प्यार, सेक्स और बेवफ़ाई

Love, Sex and Infidelity
बढ़ रही है बेवफाई की घटनाएं

हाल में आए एक सर्वे पर हैदराबाद के एक्सपर्ट्स ने अपनी सहमति जतायी है। इस सर्वे के नतीजों के मुताबिक भारत में इन्फिडेलिटी या बेवफाई की घटनाएं बढ़ रही हैं। पॉलिगैमी या बहुविवाह प्रथा, सामाजिक तौर पर स्वीकार्य नहीं है। तो वहीं, बेवफाई एक ऐसा जुर्म जिसके पकड़े जाने पर रिश्ते की समाप्ति हो जाती है। लेकिन हैरानी की बात ये है कि अपने पार्टनर से धोखे की ये परंपरा भारत में धीरे-धीरे बढ़ती जा रही है।

एक ताजा सर्वे के मुताबिक, पहले जहां रिलेशनशिप में होना या सेक्स के बारे में बात भी करना अनुचित माना जाता था। वहीं, अब अपने पार्टनर से धोखे की बात पर लोगों को ना ही कोई पछतावा है, बल्कि वो बड़े आराम से इसके बारे में बात भी करते हैं। मैरेज थेरेपिस्ट डॉ सोना कक्कड़ की मानें तो हैदराबाद में पिछले 5 साल में उनके पास इन्फिडेलिटी या बेवफाई के जितने मामले में आते थे उसमें 50 प्रतिशत का इजाफा हुआ है। ऐसे में बड़ा सवाल- इसकी वजह क्या है?

1. एक दूसरे के लिए समय की कमी – एक्सपर्ट्स की मानें तो लोगों के पास स्वच्छंद या असंयमी होने के ज्यादा मौके हैं। और इसकी कई वजह हैं। ऑफिसों में महिला कर्मचारियों की संख्या बढ़ रही है। दोनों पार्टनर वर्किंग है और ज्यादातर समय उनके वर्किंग घंटे एक दूसरे से नहीं मिलते हैं। और दोनों के समय ही नहीं है कि वो एक दूसरे के साथ बिताएं। ऐसे में इमोश्नल और फिजिकल कॉन्टैक्ट ना के बराबर होता है। जिस वजह से घर के बाहर भी अफेयर बन जाते हैं।

2. गुमनामी की आड़ – पहले जब ज्वाइंट फैमिली हुआ करती थी और परिवार का हर सदस्य कौन कहां है, इस बारे में जानकारी रखता था। लेकिन न्यूक्लियर फैमिली का चलन बढ़ने और दोनों पार्टनर्स के वर्किंग होने की वजह से कई बार रिश्ते में अकेलापन आ जाता है। कई बार दोनों पार्टनर अगल शहर में रहते हैं। ऐसे में गुमनामी की आड़ में पार्टनर्स एक दूसरे को धोखा देते हैं।

3. साथियों का दबाव – डॉ सुधाकर कहती हैं कि लोग हमेशा ही भटक जाएं ऐसा जरुरी नहीं है। लेकिन कई बार बाहरी दबाव की वजह से ही हृदय परिवर्तन हो जाता है। कई बार संगी साथी यह कहते हैं कि- मौज मस्ती करने में कोई हर्ज नहीं है, ये कोई बड़ी बात नहीं है। और इस तरह की बातें सुनकर लोग अपने पार्टनर से धोखा कर बैठते हैं।

Source: Navbharat Times

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s